Uttar Pradesh Chief Secretary said, need to strengthen sampling, testing | उप्र के मुख्य सचिव बोले, सैंपलिंग, टेस्टिंग को और मजबूत करने की जरूरत

0
29



लखनऊ, 26 अक्टूबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र तिवारी ने सोमवार को कहा कि राज्य में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए सैम्पलिंग, टेस्टिंग, कान्ट्रैक्ट ट्रेसिंग, बचाव और उपचार की व्यवस्था को और अधिक मजबूत बनाने के निर्देश दिए हैं।

कोविड-19 के संबंध में आयोजित बैठक के दौरान मुख्य सचिव ने कहा कि जिन जिलों में पॉजिटिविटी रेट अधिक है, उन जिलों में विशेष ध्यान दिया जाए। टेस्टिंग की संख्या बढ़ाई जाए। कोविड-19 की सैम्पलिंग करते समय निर्धारित गाइडलाइन्स का पालन किया जाए, ताकि कोई भी कोरोना संक्रमित व्यक्ति जांच में छूटने न पाए।

मुख्य सचिव ने कहा कि जिन जिलों में संक्रमण ज्यादा है। वहां चिकित्साएवं स्वास्थ्य विभाग और चिकित्सा शिक्षा विभाग एक्सपर्ट की टीम भेजकर सैम्पलिंग, टेस्टिंग और ट्रीटमेंट व्यवस्था देखें। उन्होंने कहा कि कोविड-19 मरीजों की संख्या में गिरावट आ रही है। मगर यह समय और अधिक सावधान रहने का है। सांस्कृतिक और सार्वजनिक आयोजनों में कोविड-19संक्रमण से बचाव के लिए विशेष सावधानी बरती जाए।

बैठक में अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डॉ. रजनीश दुबे, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद, अपर मुख्य सचिव ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज मनोज कुमार सिंह, प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य आलोक कुमार, सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार समेत कई विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

वीकेटी/एसजीके

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here