Olympic bound Indian Archery Team Get Fully Vaccinated Ahead of Tokyo Games | टोक्यो ओलिंपिक से पहले आर्चरी टीम के 8 खिलाड़ियों ने दूसरा डोज लिया; दीपिका बोलीं- किसी भी सदस्य को नहीं हुई परेशानी

0
3


  • Hindi News
  • Sports
  • Olympic Bound Indian Archery Team Get Fully Vaccinated Ahead Of Tokyo Games

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पुणेएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
वैक्सीन का दूसरा डोज लगवाते आर्चर तरुणदीप (बाएं)। वहीं, दीपिका (दाएं) ओलिंपिक कोटा हासिल करने वाली इकलौती महिला तीरंदाज हैं। उन्होंने भी कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज ले लिए हैं। - Dainik Bhaskar

वैक्सीन का दूसरा डोज लगवाते आर्चर तरुणदीप (बाएं)। वहीं, दीपिका (दाएं) ओलिंपिक कोटा हासिल करने वाली इकलौती महिला तीरंदाज हैं। उन्होंने भी कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज ले लिए हैं।

भारतीय आर्चरी टीम टोक्यो से पहले वैक्सीनेट होने वाली देश की पहली टीम बन गई। आर्मी स्पोर्ट्स इंस्टिट्यूट में चल रहे नेशनल कैंप के दौरान टीम में शामिल सभी आठों खिलाड़ियों, कोच और स्पोर्टिंग स्टाफ ने वैक्सीन का दूसरा डोज लिया। वैक्सीनेट होने वालों में ओलिंपिक कोटा हासिल कर चुके पुरुष टीम के सदस्य अतनुदास, तरुणदीप रॉय, प्रवीण जाधव और महिला टीम की दीपिका कुमारी, अंकिता भगत, कोमोलिका बारी शामिल हैं। इनके अलावा रिजर्व खिलाड़ी बी धीरज और मधुवेदान ने भी वैक्सीन के दोनों डोज लिए।

वैक्सीन लेने के बाद किसी खिलाड़ी को नहीं हुई परेशानी
महिलाओं में इकलौता ओलिंपिक कोटा हासिल करने वाली दीपिका कुमारी ने दोनों डोज लेने के बाद अपने अनुभव को भास्कर से शेयर किया। दीपिका ने कहा कि वैक्सीनेट होने के बाद उन्हें और टीम के किसी भी सदस्य को किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं हुई। हाफ डे रेस्ट करने के बाद फिर से वे ट्रेनिंग में जुट गए। सभी को बिना किसी डर के वैक्सीन लगवाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि लोग वैक्सीन लेने के बाद भी सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पहनना नहीं छोड़ें। अब मैं बिना किसी टेंशन की ओलिंपिक की तैयारी कर सकती हूं। इसके लिए मैं आर्मी का और आर्चरी फेडरेशन के शुक्रिया अदा करती हूं।

पुरुष टीम को 8 साल बाद ओलिंपिक कोटा मिला
भारतीय पुरुष टीम पिछली बार 2012 लंदन ओलिंपिक में हिस्सा लिया था। इसके बाद वे 2016 रियो ओलिंपिक नहीं खेल सकी थी। टीम ने पिछले साल वर्ल्ड आर्चरी चैम्पियनशिप के क्वार्टर-फाइनल में पहुंचकर ओलिंपिक कोटा हासिल किया था। भारतीय टीम 14 साल बाद इस चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंची थी। हालांकि टीम को सिल्वर मेडल से ही संतुष्ट होना पड़ा। टीम में तरुणदीप रॉय, अतनुदास और प्रवीण जाधव शामिल थे।

महिला टीम के पास ओलिंपिक कोटा हासिल करने का मौका
महिला टीम के पास ओलिंपिक कोटा हासिल करने का एक मौका बचा हुआ है। टीम को 21 से 27 जून तक पेरिस में होने वाले वर्ल्ड कप में हिस्सा लेना है। इसके लिए टीम का नेशनल कैंप पुणे के आर्मी स्पोर्ट्स इंस्टिट्यूट में लगा हुआ है।

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here