High security number plates will be delivered to home, here you can apply online |हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट की होगी होम डिलीवरी, 5 मिनट में ऐसे करें ऑनलाइन बुकिंग

0
21


नई दिल्ली: दिल्ली में गाड़ियों के लिए हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट (High Security Registration Plates) लगाने का काम एक बार फिर शुरू हो गया है. आपको बता दें कि दिल्ली में गाड़ियों में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट अनिवार्य होने जा रहा है. अगर आप भी हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगवाना चाहते हैं तो इसके लिए ऑनलाइन बुकिंग (Online booking) कर सकते हैं. ये नंबर प्लेट आपके घर डिलीवर की जाएंगी. दिल्ली में करीब 20 लाख वाहनों में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगना है.

पोर्टल पर दिक्कतों की शिकायतें मिलीं थीं

दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने पिछले महीने अधिकारियों को ऑनलाइन बुकिंग बंद करने का निर्देश दिया था. इससे पहले उन्हें वाहन मालिकों से इसमें देरी और रजिस्ट्रेशन पोर्टल में दिक्कतों की शिकायतें मिलीं थीं. अब ऑनलाइन बुकिंग प्रक्रिया को दोबारा शुरू किया गया है. एक अधिकारी ने बताया कि ‘इस प्रक्रिया की शुरुआत सही तरीके से हुई है और अब तक किसी प्रकार की शिकायत नहीं मिली है. दिवाली तक हर रोज तीन हजार बुकिंग का लक्ष्य रखा गया है.’

नंबर प्लेट की होगी होम डिलीवरी 

टदिल्ली सरकार ने गाड़ियों में नंबर प्लेट लगाने के लिए 150 की जगह अब 658 केंद्र बनाए हैं. जिससे लोगों को किसी तरह की परेशानी न हो. दिल्ली सरकार ने कोरोना के चलते नंबर प्लेट की होम डिलीवरी की भी सुविधा दी है. अगर आप भी होम डिलीवरी चाहते हैं तो इसके लिए 150-300 रुपये तक चार्ज देना होगा. 

ऐसे करें हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट के लिए आवेदन 

1. अगर आप नोएडा या गाजियाबाद में रहते हैं तो भी आप इस वेबसाइट से बुकिंग कर सकते हैं, आवेदन करने के लिए bookmyhsrp.com पर जाना होगा
2. इसके बाद वाहनों की पूरी सीरीज खुलेगी, इसमें टू-व्हीलर, थ्री व्हीलर, फोर व्हीलर, भारी वाहन के विकल्प मिलेंगे, इनमें से किसी एक को चुनिए
3. फिर आपकी गाड़ी किस कंपनी की है उसका चयन करना होगा, इसकी पूरी लिस्ट होगी, जैसे Maruti, hyundai या Tata के विकल्प होंगे
4. गाड़ी की कंपनी का नाम चुनते ही ये आपसे राज्य पूछेगा, DL यानी दिल्ली और UP यानी उत्तर प्रदेश
5. फिर आपको प्राइवेट वाहन और कमर्शियल वाहन के 2 विकल्प दिखाई देंगे
6. प्राइवेट व्हीकल टैब पर क्लिक करने पर पेट्रोल, डीजल, इलेक्ट्रिक, CNG और CNG+पेट्रोल के विकल्प मिलेंगे, इनमें से किसी एक चुनिए
7. इसके बाद आपसे गाड़ी की पूरी जानकारी मांगी जाएगी, जैसे BS कौन सा है, रजिस्ट्रेशन की तारीख, रजिस्ट्रेशन नंबर, चेसिस नंबर, इंजन नंबर, कार मालिक का नाम, ई-मेल आईडी, मोबाइल नंबर, बिलिंग पता, शहर, अगर GST है तो दें.
8. यह सब जानकारी अपलोड करने पर एक नई विंडो खुलेगी. इसमें गाड़ी की RC और आईडी प्रूफ अपलोड करना होगा. 
9. सारी जानकारी और कागजात अपलोड करने के बाद मोबाइल फोन पर OTP जेनरेट हो जाएगा
10. सबसे आखिरी में पेमेंट का विकल्प आएगा. पेमेंट करते ही ऑनलाइन बुकिंग की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी

हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट क्यों जरूरी

हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट (HSRP) एक क्रोमियम बेस्ड होलोग्राम है, जबकि होलोग्राम एक स्टीकर होता है. इस  पर वाहन के इंजन और चेसिस नंबर होते हैं. ऐसे यह नंबर पेंट और स्टीकर से प्रेशर मशीन के जरिये लिखा जाता है, जिससे छेड़खानी नहीं हो सकती है. नंबर प्लेट पर एक तरह का पिन होगा जो आपके वाहन से जोड़ेगा. ऐसे गाड़ी चोरी होने की स्थिति में यह पिन एक बार आपके वाहन से प्लेट को पकड़ लेगा तो यह दोनों ही तरफ से लॉक होगा, किसी से खुलेगा नहीं. 

कलर कोडिंग भी जरूरी

हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन के साथ नंबर प्लेट पर अब तीसरा रजिस्ट्रेशन मार्क भी बनाना होगा. इसमें कलर के जरिये यह दर्शाना होगा कि कौन सा ईंधन गाड़ी में इस्तेमाल हो रहा है? इसके लिए कलर कोडिंग करनी होगी. 

ये भी पढ़ें: साल भर में दोगुना हुए आलू के भाव, प्याज अब भी रुला रहा, भाव 90 रुपये तक पहुंचे

VIDEO



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here