Cyclone Nivar: ​​NDRF on alert in Tamil Nadu, Puducherry and Andhra Pradesh, PM Modi assured of help | Cyclone Nivar: तमिलनाडु, पुडुचेरी और आंध्र प्रदेश में अलर्ट पर NDRF, PM मोदी ने दिया मदद का आश्वासन

0
13


नई दिल्ली: तमिलनाडु (Tamil Nadu), पुडुचेरी (Puducherry) और आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) में चक्रवाती तूफान निवार (Nivar Cyclone) का खतरा मंडरा रहा है. निवार बंगाल की खाड़ी के उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ रहा है. कुछ घंटों में यह तूफान तमिलनाडु (Tamil Nadu) और चेन्नई (Chennai) के तटवर्ती इलाकों से टकरा सकता है. पिछले कुछ घंटों से तूफान की गति 6 किलोमीटर प्रतिघंटे रही है. मौसम विभाग ने भी चेतावनी दी है कि आने वाले 12 घंटे बेहद अहम होने वाले हैं. इस दौरान 100 से 14 किलोमीटर की रफ्तार से हवाएं चलने की आशंका है. 

तूफान आने के पहले ही इसका असर दिखने लगा है. तूफान के प्रभाव से तमिलनाडु (Tamil Nadu) के कई इलाकों में तेज बारिश (Heavy Rain) हो रही है. चेन्नई में बारिश के बाद जलजमाव की स्थिति देखने को मिल रही है. पुडुचेरी (Pondicherry) के समुद्री तट पर ऊंची-ऊंची लहरें उठ रही हैं. कई जगहों पर पेड़ गिर गए हैं. तूफान को देखते हुए राज्य सरकारों ने अपनी तैयारियां पूरी कर ली हैं. 

रेल-हवाई सेवाएं बंद
निवार के खतरे के चलते तीनों राज्यों में NDRF को अलर्ट पर रखा गया है. रेल और हवाई सेवाओं को भी इन इलाकों में बंद कर दिया गया है. लोगों से अपने घरों में रहने की अपील की गई है. वहीं तटीय इलाकों से दूर रहने को भी कहा गया है.

ये भी पढ़ें- Cyclone Nivar के तट से टकराने से पहले Chennai में आफत, देखें तस्वीरें

अलर्ट पर NDRF
प्रशासन ने तूफान से निपटने की तैयारियां तेज कर दी हैं. तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और पुडुचेरी में अत्यंत गंभीर चक्रवाती तूफान निवार के मद्देनजर एनडीआरएफ के करीब 1,200 बचावकर्मियों को तैनात किया गया हैं और 800 अन्य को तैयार रखा गया है. 

PM मोदी ने दिया मदद का आश्वासन
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी और पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी से बातचीत कर हालात की जानकारी ली और केंद्र से हर संभव मदद का भरोसा दिया. 

LIVE TV

हालात सामान्य करने की तैयारियां तेज
इसके अलावा राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन कमिटी ने सभी संबंधित विभागों को निर्देश दिए हैं कि तूफान की वजह से जान की हानि को रोका जाए. इसके अलावा प्रभावित इलाकों में बिजली, संचार व्यवस्था के साथ-साथ जल्द से जल्द हालात सामान्य बनाने के लिए भी तैयार रहने के लिए कहा गया है. 



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here