Crude Palm Oil Import Tax Cuts By Narendra Modi Government | क्रूड पाल ऑयल पर इंपोर्ट टैक्स घटाया, खाने की बढ़ती कीमतों पर मिलेगी राहत

0
12


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबई8 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

भारत दुनिया के दुनिया का सबसे बड़ा पाम ऑयल आयातक देश है। यह हर साल लगभग 90 लाख टन पाम ऑयल आयात करता है।

  • पाम ऑयल का मुख्य रूप से बेकरी उत्पाद बनाने के साथ होटल और रेस्त्रां में कुकिंग के लिए इस्तेमाल होता है
  • भारत मुख्य रूप से इंडोनेशिया और मलेशिया से पाम ऑयल आयात करता है

सरकार ने क्रूड पाम ऑयल पर लगने वाले इंपोर्ट टैक्स को कम कर दिया है। इसको 37.5% से घटा कर 27.5% कर दिया गया है। रॉयटर्स के मुताबिक सरकार इससे खाने की बढ़ती कीमतों को नियंत्रण करना चाहती है। क्योंकि पाम ऑयल का मुख्य रूप से बेकरी उत्पाद बनाने के साथ होटल और रेस्त्रां में कुकिंग के लिए इस्तेमाल किया जाता है। हालांकि, यह घरों में खाना-बनाने में कम इस्तेमाल होता है।

रेटिंग एजेंसी इक्रा ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद पाम तेल की वैश्विक कीमतें तेजी से बढ़ी हैं। इस साल मई से इसके भाव 50% तक बढ़ चुके हैं। ऐसे में पाम ऑयल की कीमतों में तेजी का अनुमान है। हालांकि, यह तेजी काफी हद तक दक्षिण पूर्व देशों जैसे इंडोनेशिया और मलेशिया में ला नीना मौसम के पैटर्न पर निर्भर करेगी।

भारत दुनिया के दुनिया का सबसे बड़ा पाम ऑयल आयातक देश है। यह हर साल लगभग 90 लाख टन पाम ऑयल आयात करता है। भारत मुख्य रूप से इंडोनेशिया और मलेशिया से पाम ऑयल आयात करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here