Choosing the right mask is necessary to avoid corona | कोरोना से बचने के लिए सही मास्क का चयन जरूरी

0
13



नई दिल्ली, 26 नवंबर (आईएएनएस)। पूरी दुनिया कोरोनावायरस की तीसरी लहर की चपेट में है। भारत भी इससे अछूता नहीं है। इस महामारी से बचने के लिए कई तरह के दिशा-निर्देश सरकार ने जारी किए हैं। इनमें सबसे अहम है मास्क लगाए रखना और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना।

अब समस्या यह है कि इस बीमारी से बचने के लिए क्या हर मास्क उपयोगी है। आज कर डिजाइनर मास्क भी बाजार में मिल रहे हैं लेकिन इन्हें लगाकर सार्वजनिक स्थलों पर या दफ्तरों में सुरक्षित रहा जा सकता है। यह सोच का विषय है।

सरकार ने भी कहा है कि क्लीनिकली एप्रूव्ड मास्क से ही कोरना से बचाव हो सकता है और इस क्रम में एन95 मास्क उपयोगी बताए जा रहे हैं। एक और मास्क है, जिसे कोरोना के खिलाफ लड़ाई मे कारगर माना जा रहा है। इस मास्क का नाम जी99 है और इसे नई दिल्ली स्थित निमार्ता एवं निर्यातक, जीनस अपेरल्स तैयार किया है।

जीनस का दावा है कि उसका जी99 मास्क कोरोना से 99.99 प्रतिशत तक सुरक्षा करता है। यह अमेरिका की आईएसओ सर्टिफाईड लैबोरेटरी द्वारा अनुमोदित है। यह स्विस टेक्नॉलॉजी द्वारा पॉवर्ड है, जो प्रतिष्ठित ऑस्ट्रेलियन इंस्टीट्यूट से सर्टिफाइड है।

जीनस जी99 मास्क को खासततौर पर कोरोना से बचाव के लिए बनाया गया है। इसमें अतिरिक्त सुरक्षा के लिए सुरक्षा की पांच परतें हैं। सबसे अंदर की परत ऑर्गेनिक कॉटन की है, जो लंबे समय तक पहने जाने के बाद अतिरिक्त कम्फर्ट प्रदान करती है। यह अत्यधिक मुलायम स्किन-फ्रेंडली कॉटन परत नमी को अवशोषित कर लेती है, जिससे कम गर्मी उत्पन्न होती है।

ट्रिपल पार्टिकुलेट (3 इन टू 1) कंपोजिट नैनोटेक फिल्ट्रेशन सिस्टम प्रदूषण, बैक्टीरिया, पीएम 2.5 पार्टिकल्स को फिल्टर कर सपोर्ट का काम करता है। बाहरी परत ड्रॉपलेट्स से सुरक्षा देती है और बड़े कणों को फिल्टर कर देती है।

बीच में सीम कट डिजाईन के साथ यह मास्क बेहतरीन फिट सुनिश्चित करता है और ग्लासेस पर फॉगिंग को रोकता है। इसमें ईयर लूप्स की फैब्रिक बहुत मुलायम है, जिसके करण यूजर्स इसे लंबे समय तक आराम से पहन सकते हैं और कानों को कोई तकलीफ भी नहीं होती। जीनस जी99 मास्क टिकाऊ है और 30 बार की कोमल धुलाई तक बार बार इस्तेमाल किया जा सकता है।

अमित अग्रवाल, मैनेजिंग डायरेक्टर, जीनस अपेरल्स ने कहा,ह्यह्यदुनिया में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के साथ लोगों को इस वायरस से खुद को सुरक्षित रखना जरूरी हो गया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सही कहा है कि मौजूदा समय में ह्यफेस मास्क नई वैक्सीन बन गया है। हमें जीनस जी99 मास्क लॉन्च करने की खुशी है, जो यूएसए की आईएसओ सर्टिफाईड लैबोरेटरी द्वारा प्रमाणित है और कोरोना वायरस के खिलाफ 99.99 प्रतिशत प्रभावशाली है।

इस मास्क को अभी तक भारत में शानदार प्रतिक्रिया मिल रही है और यह अमेरिका, यूके, फ्रांस, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, यूएई, दुबई, नाईजीरिया, सीरिया, म्यनमार, ओमन, डेनमार्क, स्पेन, जर्मनी, अफगानिस्तान आदि देशों को निर्यात किया जा रहा है।

जीनस जी99 मास्क का मूल्य सिंगल पीस पैक के लिए 270 रु. है। यह मास्क चार रंगों – ब्लैक, मिडनाईट ब्लैक, इनसिग्निया ब्लू, पॉवडर ब्लू में पाँच साईज – स्मॉल, मीडियम, लार्ज, एक्स्ट्रा लार्ज एवं डबल एक्स्ट्रा लार्ज में उपलब्ध है। यह मास्क रिटेल स्टोर्स एवं अमेजन जैसी ई-कॉमर्स साईट्स से खरीदा जा सकता है।

जेएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here