50% decline in arrival of fruits and vegetables from farmer movement; Expectation of price rise | किसान आंदोलन से 50 फीसदी घटी फलों, सब्जियों की आवक; दाम बढ़ने के आसार

0
17



नई दिल्ली, 2 दिसंबर (आईएएनएस)। किसान आंदोलन के चलते देश की राजधानी दिल्ली में पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश और जम्मू-कश्मीर से फलों और सब्जियों की आवक घट गई है। फलों और सब्जियों की आवक घटने से दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर भारत के अन्य हिस्सों में भी फलों की कीमतों में तेजी बनी रह सकती है।

प्रदर्शनकारियों ने पहले दिल्ली में प्रवेश करने वाले सिर्फ तीन सड़क मार्ग को जाम किया था, लेकिन बुधवार को नोएडा लिंक रोड स्थित चिल्ला बॉर्डर समेत कुछ अन्य मार्गों पर भी जाम शुरू कर दिया गया।

सब्जी कारोबारियों ने बताया कि दिवाली के बाद आलू, प्याज समेत तमाम हरी शाक-सब्जियों की नई फसलों की आवक उत्तर भारत की मंडियों में बढ़ने लगी थी, लेकिन किसान आंदोलन के चलते एशिया में फलों और सब्जियों की सबसे बड़ी मंडी दिल्ली की आजादपुर मंडी में बीते एक सप्ताह से कई फलों व सब्जियों की आवक 50 फीसदी तक घट गई है।

कारोबारियों ने बताया कि रात के समय ट्रक ड्राइवरों को जो भी मार्ग खुला मिलता है, उससे सब्जियों और फलों से लदे ट्रक लेकर दिल्ली के भीतर आ रहे हैं इसलिए एक सप्ताह से उत्तर भारत का मुख्य मार्ग जीडी रोड बंद होने के बावजूद राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में फलों और सब्जियों की आवक हो रही है, लेकिन इसमें कमी जरूर आई है।

आजादपुर मंडी चैंबर ऑफ फ्रूट एंड वेजीटेबल्स एसोसिएशन के प्रेसीडेंट एम.आर. कृपलानी ने बताया कि कई फलों व सब्जियों की आवक 50 फीसदी तक घट गई है। उन्होंने बताया कि सब्जियों की कीमतों में अब तक काफी गिरावट आ गई होती, मगर किसान आंदोलन के चलते गिरावट होने के बजाय कई सब्जियों और फलों के दाम बढ़ गए हैं।

आजादपुर मंडी एपीएमसी की बुधवार की रिपोर्ट के अनुसार, मंडी में आलू की आवक 1,052 टन थी जबकि एक सप्ताह पहले मंडी में आलू की आवक 1700 टन तक चली गई थी। इसी प्रकार प्याज की आवक मंडी में बुधवार को 984 टन जबकि टमाटर की आवक सिर्फ 87 टन थी। प्याज की आवक बीते सप्ताह 1300 टन से ज्यादा और टमाटर की आवक 400 टन से ज्यादा थी।

आजादपुर मंडी के कारोबारी व पोटैटो एंड अनियन मर्चेंट एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी राजेंद्र शर्मा ने बताया कि दिल्ली में आलू की आवक इस समय हिमाचल और पंजाब से है जबकि प्याज की आवक राजस्थान से हो रही है, लेकिन किसान आंदोलन के चलते आवक प्रभावित है, इसलिए कीमतों में जितनी गिरावट अब तक आनी चाहिए उतनी नहीं है, लेकिन आलू और प्याज के थोक भाव में दिवाली के बाद गिरावट आई है।

आजादपुर मंडी मंे बुधवार को प्याज का थोक भाव 10 रुपये से 35 रुपये, आलू का 16 रुपये से 36 रुपये और टमाटर का छह रुपये से 34 रुपये प्रति किलो था।

हालांकि दिल्ली-एनसीआर में आलू और टमाटर का खुदरा भाव क्रमश: 50 रुपये प्रति किलो से उपर जबकि प्याज का 60 रुपये प्रति किलो था।

कारोबारियों को आशंका है कि अगर दिल्ली में प्रवेश करने वाले अन्य मार्ग भी किसान आंदोलन के चलते अवरुद्ध हुआ तो सब्जियों और फलों के दाम में आने वाले दिनों में इजाफा हो सकता है।

पीएमजे-एसकेपी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here