दुनिया के सबसे खतरनाक रास्तों में शुमार है इंग्लैंड का ब्रूमवे, जहां पल-पल मंडराती है मौत

0
28


'ब्रूमवे' को कथित तौर पर दुनिया का सबसे खतरनाक रास्ता कहा जाता है (फोटो क्रेडिट- Jes Fernie, Twitter)

‘ब्रूमवे’ को कथित तौर पर दुनिया का सबसे खतरनाक रास्ता कहा जाता है (फोटो क्रेडिट- Jes Fernie, Twitter)

फाउलनेस द्वीप (Foulness Island) तक पहुंचने का एकमात्र रास्ता नाव के जरिए या समुद्र के उथला रहने पर मैपलिन बालू पर चलकर जाने का है. जिस रास्ते से द्वीप पर चलकर जाते हैं, उसी समुद्री मार्ग को ‘ब्रूमवे’ (Broomway) कहा जाता है. इसे ही कथित तौर पर ब्रिटेन का सबसे खतरनाक रास्ता (Britain’s Deadliest Path) भी कहा जाता है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    November 2, 2020, 2:32 PM IST

दुनिया के सबसे खतरनाक रास्तों (Deadliest Paths) में शुमार ‘ब्रूमवे’ (Broomway) इंग्लैंड (England) के एसेक्स के पूर्वी तट पर स्थित है. यह फाउलनेस द्वीप (Foulness Island) पर रोच नदी के मुहाने पर पड़ता है. यहां पर लंबे समय तक सेना (Army) का नियंत्रण रहा था. 19वीं शताब्दी के मध्य में युद्ध ऑफिस ने यहां पहली बार तोपखाने की स्थापना की थी. अब रक्षा मंत्रालय (Defence Ministry) इसका नए हथियारों और गोला-बारूद (Ammunition) के परीक्षण के लिए इस्तेमाल करता है. अधिक आबादी वाले इलाकों से काफी दूर स्थित होने के कारण, यह द्वीप इस उद्देश्य के लिए आदर्श है.

हालांकि ऐसा नहीं है कि इस द्वीप (Island) पर लोग नहीं रहते हैं. खतरनाक हथगोलों, विस्फोटकों और निर्देशित मिसाइल प्रणालियों (Guided Missile Systems) के साथ रहने वाले संख्या में बहुत कम ऐसे परिवार (Families) यहां हैं, जो पट्टे पर दी गई भूमि पर गेहूं, जौ, मटर और अलसी (linseed) उगाते हैं. यह विचित्र व्यवस्था फाउलनेस द्वीप को एक अनोखा स्थान बनाती है.

इसे पार करने के दौरान अगर आ गया ज्वार तो मौत होना संभव
लंबे समय तक फाउलनेस द्वीप तक पहुंचने का एकमात्र रास्ता नाव के जरिए या समुद्र के उथला रहने पर मैपलिन बालू पर चलकर जाने का था. जिस रास्ते से द्वीप पर चलकर जाते हैं, उसी समुद्री मार्ग को ‘ब्रूमवे’ कहा जाता है. इसे ही कथित तौर पर ब्रिटेन का सबसे खतरनाक रास्ता भी कहा जाता है.ब्रूमवे, वेकरिंग सीढ़ियां नाम के स्थान पर शुरू होता है और फिर पूर्व की ओर सीधे समुद्र की ओर निकल जाता है. लगभग 400 मीटर के बाद यह रास्ता उत्तर-पूर्व की ओर मुड़ता है और फाउलनेस द्वीप के सबसे ऊपरी सिरे ‘फिशरमैन्स हेड’ पर भूमि की ओर वापस पहुंचने से पहले, लगभग 5 मील के लिए तट के समानांतर इस दिशा में चलता है. अच्छे मौसम में यह रास्ता एक बड़े समुद्र तट पर लंबी सैर से ज्यादा कुछ नहीं लगता. लेकिन जब ज्वार आता है, तो यहां तेजी से पानी आता है. जाहिर है कि यह इतना तेज होता है कि आदमी इससे दौड़ कर नहीं बच सकता. अगर आप तब भी इस रास्ते पर हैं तो मिनटों के भीतर, पानी आपके कूल्हों और फिर आपकी छाती तक पहुंच जाता है. इस तरह अनगिनत लोग ब्रूमवे को पैदल पार करते हुए अपनी जान गंवा चुके हैं.

बहुत पुराने समय से प्रयोग में आ रहा रहा है ये रास्ता
इस बात के पक्के प्रमाण हैं कि ब्रूमवे का उपयोग 600 साल पहले भी एक रास्ते के रूप में किया जाता था. लेकिन इस प्राचीन मार्ग का प्रयोग किये जाने के सबूत तबसे मिलते हैं, जब फाउलनेस द्वीप पर रोमन लोगों ने पहली बार बस्तियां बनाई थीं. यह माना जाता है कि इस रास्ते का उपयोग एंग्लो-सैक्सन समय के दौरान किया जाता था और बाद में आने वाली बाढ़ों के चलते हुए तटीय कटाव से यह इस हालत में पहुंच गया. पुरातत्व सर्वे से पता चला है कि ब्रूमवे के दक्षिणी खंड को एक बार लकड़ी के काम के साथ मजबूत भी किया गया था.

यह भी पढ़ें: स्कर्ट और ऊंची एड़ियों की सैंडल पहन महिलाओं के फैशन को भी मात देता है यह आदमी, वायरल हुईं PHOTOS

वैसे ज्वार में डूबने का खतरा अकेला नहीं है. ब्रूमवे पर और भी बहुत से खतरे हैं. इसका तट मुश्किल से दिखाई देता है, और अगर कोहरा है या बारिश हो रही है, तो कोई भी आसानी से भटका सकता है और रास्ते के बजाए नरम कीचड़ और दलदल में जाकर फंस सकता है. लेकिन यह निश्चित है कि अगर आप ज्वार के आने से पहले जमीन पर नहीं पहुंच सके, तो मौत होने का खतरा सबसे ज्यादा होता है.



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here