दिसंबर 2020 से स्टेच्यू ऑफ यूनिटी तक पहुंचना होगा आसान, रेलवे के मैप में शामिल होगा केवड़िया

0
37


इस साल दिसंबर से लोगों के लिए स्‍टेच्‍यू ऑफ लिबर्टी तक पहुंचना हो जाएगा आसान.

इस साल दिसंबर से लोगों के लिए स्‍टेच्‍यू ऑफ लिबर्टी तक पहुंचना हो जाएगा आसान.

भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने ऐलान किया है कि गुजरात के दभोई (Dabhoi) से केवड़िया तक रेललाइन को दिसंबर 2020 से शुरू किया जा रहा है. दभोई से चंदोड़ (Chandod) के बीच 18 किमी लंबे ट्रैक के गेज का बदलाव किया गया है, जबकि चंदोड़ से केवड़िया के बीच 32 किमी लंबी नई रेललाइन डाली गई है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    November 2, 2020, 10:04 PM IST

नई दिल्‍ली. दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति ‘स्टेच्यू ऑफ यूनिटी’ (Statue of Unity) का दीदार करना दिसंबर 2020 से और आसान हो जाएगा. दरअसल, सरदार वल्लभ भाई पटेल (Sardar Vallabh Bhai Patel) का यह मूर्तिस्थल बहुत जल्द भारतीय रेलवे (Indian Railways) के मानचित्र में शामिल होने जा रहा है. केवड़िया रेल लिंक के शुरू होने से लोग ट्रेनों के जरिये सीधे यहां पहुंच पाएंगे. फिलहाल इस जगह तक पहुंचने के लिए वडोदरा, भरूच और अंकलेश्वर रेलवे स्टेशनों पर उतरकर यात्रियों को दूसरे माध्‍यमों का इस्‍तेमाल करना पड़ता है.

अब ट्रेनों के जरिये सीधे केवड़िया पहुंचा जा सकेगा
रेलवे ने ऐलान किया है कि गुजरात के दभोई (Dabhoi) से केवड़िया तक रेल लाइन को दिसंबर 2020 से शुरू किया जा रहा है. दभोई से चंदोड़ (Chandod) के बीच 18 किमी लंबे ट्रैक के गेज का बदलाव किया गया है, जबकि चंदोड़ से केवड़िया के बीच 32 किमी लंबी नई रेललाइन डाली गई है. इससे पैसेंजर ट्रेन हो या एक्सप्रेस सीधे केवड़िया तक पहुंचा सकेगी. रेलवे बोर्ड के चेयरमैन और सीईओ वीके यादव ने बताया कि इस रेललाइन के शुरू होते ही ट्रेनों की आवाजाही शुरू हो जाएगी.

ये भी पढ़ें- बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट: इसी महीने शुरू होगा जमीन पर काम, तेजी से हो रहा भूमि अधिग्रहण, 47 फीसदी हिस्‍से के ठेके मंजूरकेवड़िया रेल लिंक का काम करीब-करीब पूरा

केवड़िया रेल लिंक के लिए भूमि अधिग्रहण का काम 100 फीसदी पूरा हो चुका है. दभोई से चंदोड़ के बीच ट्रैक का काम पूरा हो चुका है. चंदोड़ से केवड़िया के बीच ट्रैक का काम 15 नवंबर तक पूरा हो जाएगा. इसके अलावा दभोई से चंदोड़ के बीच 3 बड़े और 16 छोटे पुलों का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है. वहीं, चंदोड़ से केवड़िया के बीच 4 बड़े और 47 छोटे में से 1 बड़े व 22 छोटे पुलों का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है.

ये भी पढ़ें- इंडियन रेलवे ने बनाया नया रिकॉर्ड! इस फैक्ट्री में हर दिन बनाए जा रहे हैं 6 कोच

182 मीटर ऊंची है स्टेच्यू ऑफ यूनिटी
182 मीटर ऊंची स्टेच्यू ऑफ यूनिटी को देश के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल को श्रद्धांजलि देने के लिए बनाया गया था. इसका उद्घाटन 31 अक्टूबर 2018 को सरदार पटेल की 143वीं जयंती पर किया गया था. उद्घाटन के एक साल के भीतर ही यह देश के प्रमुख पर्यटन केंद्रों में एक हो गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 31 अक्टूबर को सरदार पटेल की 145 वीं जयंती पर यहां पहुंच कर श्रद्धांजलि दी थी.



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here